Breaking News
Download App
:

Bilaspur Crime : सॉफ्टवेयर इंजीनियर से 1 करोड 39 लाख से अधिक की ठगी, महिला का आवाज निकालने वाला शातिर आरोपी चढ़ा पुलिस के हत्थे...

top-news

Bilaspur Crime : बिलासपुर। जिला पुलिस ने साइबर ठगी का बड़ा ही दिलचस्प मामले का खुलासा किया है। मामले में पुलिस ने एक शातिर आरोपी को गिरफ्तार किया है।

Bilaspur Crime : बिलासपुर। जिला पुलिस ने साइबर ठगी का बड़ा ही दिलचस्प मामले का खुलासा किया है। मामले में पुलिस ने एक शातिर आरोपी को गिरफ्तार किया है। बताया जाता है कि आरोपी ने एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर से 1 करोड़ 39 लाख 51277 रूपए ठगी किया था। 
मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने बताया कि सरकंडा निवासी प्रार्थी नितिन जैन प्राईवेट कंपनी पुणे में सॉफ्टवेयर इंजीनियर है। नितिन ने थाना में अपने साथ हुए ठगी का शिकायत किया था।

Bilaspur Crime : जिसमें पुलिस को जांच के दौरान पता चला कि आरोपी रोहित अपने भाई के घर पुणे गया हुआ था। जहां उसकी मुलाकात जैन कॉलोनी में रहने वाले प्रार्थी नितिन जैन से हुई। आपसी परिचय बढ़ने के बाद रोहित को नितिन जैन के विवाह के लिए लडकी की तलाश होने की जानकारी मिली। इसी का फायदा उठाकर आरोपी ने प्रार्थी से संपर्क कर उसे विवाह योग्य लडकी से परिचय कराने की बात कहीं। प्रार्थी इसके बातो पर विश्वास कर लिया, तब आरोपी द्वारा प्रार्थी को दो-तीन लडकियो की फोटो इन्टरनेट से निकालकर दिखाया। जिसमें से प्रार्थी ने एक लडकी काल्पनिक नाम एकता जैन को पसंद किया।

Bilaspur Crime : तब आरोपी रोहित ने स्वयं के मोबाईल से प्रार्थी को आवाज बदलकर लडकी एकता जैन की आवाज में बात कर झांसे मे लेना शुरू कर दिया। आरोपी ने लडकी की आवाज में कुछ दिन बात कर शादी के लिये राजी होकर ठगी करना प्रारम्भ कर दिया। आरोपी ने एकता के बीमार होने व अन्य आवश्यकता होने का झांसा देकर प्रार्थी से करीब 30 लाख रूपए विभिन्न बैंक अकाउंट में जमा करा लिया। जिसके बाद आरोपी ने एक नया सिम कार्ड खरीदकर एकता जैन का भाई अंशुल जैन बनकर नये आवाज में प्रार्थी से संपर्क कर अपनी बहन से विवाह की पारिवारिक सहमति दी। बातचीत दौरान प्रार्थी को शेयर मार्केट में हानि होने, प्रॉपर्टी टेक्स पटाने, फैमली डिस्प्युट होने का हवाला देकर प्रार्थी से करीब 30 लाख रूपए विभिन्न बैंक अकाउंट में जमा करा लिया।

Bilaspur Crime : जिसके बाद आरोपी ने पुणे जाकर एक नई कहानी बनाई जिसमें लडकी एकता जैन के परिवार का हैदराबाद में प्रापर्टी होना बताया जिसकी बिक्री के लिए हैदराबाद जाना बताया। यहॉ नया सिम कार्ड खरीदकर प्रार्थी को हैदराबाद के इंकम टैक्स के जज सुब्रमण्यम की बदली हुई आवाज में मोबाईल पर संपर्क कर एकता के गिरफ्तार होने का झांसा देकर प्रार्थी से करीब 20 लाख रूपए विभिन्न बैंक अकाउंट में जमा करा लिया। जिसके बाद आरोपी ने एकता जैन का चेन्नई में भी प्रापर्टी का टैक्स जमा न होने के कारण एकता की गिरफ्तारी की संभावना बताकर चेन्नई का प्रापर्टी टैक्स अधिकारी रामकृषण्ण की बदली हुई आवाज में तमिल, हिन्दी, अंग्रेजी में प्रार्थी से करीब 15 लाख रूपए विभिन्न बैंक अकाउंट में जमा करा लिया।

Bilaspur Crime : फिर आरोपी इसी प्रकार आर.बी.आई. अधिकारी विनित की बदली हुई आवाज में इन्स्टेन्ट लोन एप के माध्यम से रकम अदायगी न कर पाने के कारण तुम जांच एजेंन्सीयो के सर्विलांस में हो पुलिस व ई.डी. अधिकारी तुम्हारे घर पर रेड करने वाले है तुम दवाजा मत खोलना और स्वयं जाकर प्रार्थी के घर का दरवाजा खटखटाने लगा और प्रार्थी को भय हो गया कि पुलिस इसे कभी भी गिरफ्तार कर सकती है। आरोपी स्वयं प्रार्थी के घर के नीचे खडे होकर फोटो खिंचकर प्रार्थी को भेजता था कि तुम जांच एजेंन्सीयो के सर्विलेंस में हो।

Bilaspur Crime : प्रार्थी डर में आकर से करीब 20 लाख रूपए विभिन्न बैंक अकाउंट में जमा करा लिया। जिससे पुलिस ने आरोपी रोहित जैन 33 वर्ष निवासी कटरा बाजार जैन एजेन्सी वार्ड न. 15 मैहर थाना मैहर जिला को हिरासत में लेकर पुछताछ किया गया। पुलिस ने आरोपी के पास से 2 नग एण्ड्रायड फोन, 2 नग कि-पैड फोन, 11 नग सिम कार्ड जब्त किया गया है। आरोपी का अपराध स्वीकार करने से गिरफ्तार कर न्यायालय पेश कर जेल भेज दिया है।