Breaking News
Download App
:

CG News : जन चौपाल: कलेक्टर अजीत वसंत ने सुनी दूरदराज क्षेत्रों की समस्याएँ, रीडर को तत्काल हटाया

top-news

CG News : कोरबा। कलेक्टर अजीत वसंत ने आज जन चौपाल में जिले के दूरस्थ और वनांचल क्षेत्रों से आए लोगों की समस्याओं को गंभीरता से सुना और त्वरित कार्रवाई के निर्देश दिए।

CG News : कोरबा कलेक्टर अजीत वसंत ने आज जन चौपाल में जिले के दूरस्थ और वनांचल क्षेत्रों से आए लोगों की समस्याओं को गंभीरता से सुना और त्वरित कार्रवाई के निर्देश दिए। कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित इस जन चौपाल में कुल 68 आवेदन प्राप्त हुए। कलेक्टर ने इन आवेदनों को संबंधित अधिकारियों को प्रेषित करते हुए नियमानुसार निराकरण के निर्देश दिए।

CG News : जन चौपाल के दौरान, कुछ लोगों ने कोरबा तहसील कार्यालय में पदस्थ अतिरिक्त तहसीलदार के वाचक (रीडर) कमलेश मित्रा के संबंध में शिकायत की। कलेक्टर अजीत वसंत ने इस मामले पर तत्काल संज्ञान लेते हुए रीडर को तलब किया। पूछताछ के दौरान, रीडर संतोषजनक उत्तर नहीं दे पाए और शिकायत की पुष्टि हुई। इसके बाद, कलेक्टर ने तहसीलदार कोरबा को निर्देश दिया कि रीडर मित्रा को तत्काल प्रभार से हटा दिया जाए। तहसीलदार द्वारा कलेक्टर के निर्देशानुसार मित्रा को तुरंत रीडर के प्रभार से हटा दिया गया।

CG News : राम केंवट ने रिकॉर्ड दुरुस्ती के संबंध में आवेदन प्रस्तुत किया। कलेक्टर ने तहसीलदार बरपाली को आवेदक का रिकॉर्ड दुरुस्त कर खसरा बी-1 प्रदान करने के निर्देश दिए। तहसीलदार ने राम केंवट का नाम रिकॉर्ड में सह खातेदार के रूप में जोड़ा और तत्काल रिकॉर्ड दुरुस्त किया, साथ ही खसरा बी-1 नक्शा भी प्रदान किया। कई लोगों ने नए राशन कार्ड बनाने और नाम जुड़वाने के लिए आवेदन दिए। कलेक्टर ने इन आवेदनों को संबंधित अधिकारियों को भेजकर त्वरित कार्रवाई के निर्देश दिए।

CG News : जन चौपाल में अतिक्रमण हटाने और रिकॉर्ड दुरुस्ती के कई मामले सामने आए। कलेक्टर ने इन मामलों में समयबद्ध कार्रवाई सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। कुछ आवेदकों ने मुआवजा दिलाने और आरबीसी 6-4 के तहत राहत राशि प्रदान करने की मांग की। कलेक्टर ने अधिकारियों को इन आवेदनों पर प्राथमिकता के आधार पर कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

CG News : कलेक्टर अजीत वसंत ने सभी अधिकारियों को निर्देशित किया कि जन चौपाल में प्राप्त आवेदनों पर समुचित और समयबद्ध कार्यवाही सुनिश्चित की जाए ताकि आवेदकों को दोबारा जन चौपाल में आने की आवश्यकता न पड़े। कलेक्टर ने जोर दिया कि आवेदनों का निराकरण शासन के नियमों के अनुसार और आवेदकों की संतुष्टि के अनुसार होना चाहिए। इस दौरान, अपर कलेक्टर दिनेश नाग और विभिन्न विभागों के अधिकारी भी उपस्थित थे। जन चौपाल ने लोगों की समस्याओं के समाधान के लिए प्रशासन की प्रतिबद्धता को दर्शाया है, और उम्मीद की जा रही है कि आने वाले दिनों में इस प्रकार के कदम लोगों की समस्याओं के समाधान में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे।