Breaking News
Download App
:

Madhya Pradesh Assembly: साढ़े बारह लाख कर्मचारियों को बजट से राहत नहीं, महंगाई भत्ते को लेकर अब कैबिनेट से उम्मीद

top-news

मध्यप्रदेश सरकार कई बार केंद्र के बराबर महंगाई भत्ता और राहत देने की घोषणा कर चुकी है

Madhya Pradesh Assembly: भोपाल। मध्य प्रदेश में विधानसभा का मानसून सत्र जारी है। मानसून सत्र के बीच प्रस्तुत हुए बजट ने प्रदेश के साढ़े बारह लाख कर्मचारियों को निराश किया है। अब प्रदेश के कर्मचारी महंगाई भत्ते और महंगाई राहत को लेकर कैबिनेट से उम्मीद लगाए बैठे हैं। मध्य प्रदेश के कर्मचारियों को उम्मीद है कि जल्द ही खुशखबरी मिल सकती है। 

Madhya Pradesh Assembly: दरअसल लंबे समय से महंगाई भत्ता और महंगाई राहत को लेकर इंतजार कर रहे कर्मचारियों को उम्मीद थी कि राज्य सरकार बजट 2024 में  कोई फैसला कर सकती है, लेकिन उन्हें इस बजट से निराशा ही हाथ लगी है। बजट से ना उम्मीद हुए कर्मचारी अब सरकार से नाराज नजर आ रहे हैं। गौरतलब है कि लंबे समय से मध्यप्रदेश में भी केंद्र सरकार के समान महंगाई भत्ते के लिए कर्मचारी मांग कर रहे हैं। कई बार मांग करने के बावजूद सरकार ने अब तक कोई फैसला नहीं लिया है। 

Madhya Pradesh Assembly: कर्मचारियों को उम्मीद थी कि बजट में भी कोई प्रावधान किया जा सकता है, लेकिन कर्मचारियों को निराशा ही हाथ लगी है। बता दें कि एमपी में 46 फीसदी महंगाई भत्ता कर्मचारियों को मिल रहा है जबकि केंद्र सरकार के कर्मचारियों को 50 फीसदी महंगाई भत्ता मिल रहा है। जबकि मध्यप्रदेश सरकार कई बार केंद्र के बराबर महंगाई भत्ता और राहत देने की घोषणा कर चुकी है।