Breaking News
Download App
:

Sri Narayana Hospital: श्री नारायणा हॉस्पिटल में अब तक 500 से ज्यादा किया रोबोटिक सर्जरी, डॉ. सुनील खेमखा ने बताया क्या है रोबोटिक-नी रिप्लेसमेंट और फ़ायदे

top-news

Sri Narayana Hospital: रायपुर। राजधानी रायपुर के श्री नारायणा हॉस्पिटल ने नया कीर्तिमान रचा है। डॉ. सुनील खेमखा श्री

Sri Narayana Hospital: रायपुर। राजधानी रायपुर के श्री नारायणा हॉस्पिटल ने नया कीर्तिमान रचा है। डॉ. सुनील खेमखा श्री नारायण हॉस्पिटल के डायरेक्टर एवं एमएस आर्थो ने बताया कि अब तक 500 से ज्यादा  रोबोटिक सर्जरी किया है। सभी सर्जरी सफलतापूर्वक सफल हुआ है। 


Sri Narayana Hospital: उन्होंने बताया कि सर्जरी से एक दिन पहले ही उसकी पूरी प्लानिंग की जाती है। पूरे हिप, नी और एकल पूरे लिम्ब का सीटी स्कैन से डाटा सॉफ्टवेयर में फीड होता है और फिर मसल्स को काटे बिना ही सबवेस्टॉस टेक्निक से घुटने में इम्प्लांट फिक्स किया जाता है, इसमें ब्लीडिंग कम होती है।  जिसके कारण मरीज की रिकवरी बहुत ही फास्ट होती है। 







Sri Narayana Hospital: इन सभी वजहों से रोबोटिक नी रिप्लेसमेंट सर्जरी के कॉम्प्लिकेशंस रेटस एकदम कम है और एक्यूरेसी सब मिलीमीटर में होने से मरीज सर्जरी के 6 घंटे पश्चात ही चलने फिरने लग जाता है। दूसरे दिन से वह सीढ़ियां उतरना चढ़ना शुरू कर देता है।


Sri Narayana Hospital: श्री नारायणा हॉस्पिटल के मैनेजिंग डायरेक्टर डॉ. सुनील खेमका ने बताया कि अहमदाबाद, मुंबई या अन्य मेट्रो शहरों में रोबोटिक नी रिप्लेसमेंट सर्जरी का प्लान करने वाले मरीजों को जब यह पता चलता है कि रोबोटिक नी रिप्लेसमेंट सर्जरी की सुविधा अब यही रायपुर में ही प्रारंभ हो गई है तो वे मरीज यहीं सक्सेसफुली रोबोटिक नी रिप्लेसमेंट सर्जरी करा रहे हैं और बहुत ही खुश हैं क्योंकि मेट्रो शहरों के खर्च से लगभग एक तिहाई खर्च में यह सर्जरी श्री नारायणा हॉस्पिटल में ही हो रही है।