Breaking News
Download App
:

Kondagaon News:जनसमस्या निवारण शिविर का आयोजन, ग्रामीणों के 398 आवेदन प्राप्त हुए, विकास की राह पर तेजी से आगे बढ़ेगा यह क्षेत्र: विधायक टेकाम

top-news

Kondagaon News:कोण्डागांव: कोण्डागांव जिले फरसगांव ब्लाक के दुरस्थ ग्राम बड़गई में जिलास्तरीय जनसमस्या निवारण शिविर का आयोजन किया गया। यहां 398 आवेदन प्राप्त हुए, जिनके त्वरित निराकरण के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए गए।

Kondagaon News:कोण्डागांव: कोण्डागांव जिले फरसगांव ब्लाक के दुरस्थ ग्राम बड़गई में जिलास्तरीय जनसमस्या निवारण शिविर का आयोजन किया गया। यहां 398 आवेदन प्राप्त हुए, जिनके त्वरित निराकरण के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए गए। इस अवसर पर विधायक नीलकंठ ठेकाम ने बॉम्बे ग्रीन आम, कलेक्टर कुणाल दूदावत ने बादाम और एसपी वाय. अक्षय कुमार ने लाल चंदन के पौधों का वृक्षारोपण भी किया। उद्यानिकी विभाग और वन विभाग के द्वारा पौधों की व्यवस्था की गई थी।

Kondagaon News:जिलास्तरीय जनसमस्या निवारण शिविर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के तौर पर क्षेत्रीय विधायक नीलकंठ टेकाम ने कहा कि मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय की सरकार जनता की समस्याओं के निदान के लिए प्रतिबद्ध है तथा इसी कड़ी में जिला स्तरीय जनसमस्या निवारण शिविरों का आयोजन किया जा रहा हैै।

Kondagaon News: उन्होंने कहा कि जनता अपनी समस्याएं प्रशासन के समक्ष रख सके, इसके लिए अच्छा अवसर है। मुख्यमंत्री जी स्वयं भी प्रति सप्ताह जनता की समस्याओं के समाधान के लिए जनदर्शन आयोजित कर रहे हैं।  विधायक टेकाम ने कहा कि जनता की मांग पर आज इस शिविर में भोंगापाल से बड़गई कुलानार से बड़गई के बीच सड़क निर्माण की स्वीकृति प्रदान की गई है। 


Kondagaon News:इसके साथ ही बारदा नदी के किनारे विद्युतीकरण हेतु स्वीकृत कार्य पर भी तेजी से कार्य किया जाएगा। उन्होंने कहा कि यह अंचल कुछ वर्षों पूर्व अतिसंवेदनशील माना जाता था, किन्तु कुछ ही समय में इस क्षेत्र में बहुत बदलाव दिख रहा है। यह क्षेत्र अब अच्छी कृषि के लिए जाना जाता है। उन्होंने इस क्षेत्र को ऐतिहासिक बताया और कहा कि यह क्षेत्र अब तेजी से आगे बढ़ेगा। 


Kondagaon News:वहीँ कोण्डागांव जिला कलेक्टर कुणाल दुदावत ने इस अवसर पर कहा कि मुख्यमंत्री के निर्देश पर जिला प्रशासन द्वारा सुशासन की ओर कदम बढ़ाया जा रहा है। इसी कड़ी में दुरस्थ अंचलों में जिलास्तरीय जनसमस्या निवारण शिविरों का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें सभी जिलास्तरीय अधिकारी उपस्थित रहते हैं। उन्होंने कहा कि जनता द्वारा दिए गए आवेदनों के निराकरण पर स्वयं के द्वारा निगरानी की जा रही है, जिससे लोगों की समस्याओं का समाधान हो।