Breaking News

कहीं से भी ढूंढ कर घर के आंगन में लगा लें ये चमत्कारी पौधा, श्री कृष्ण को भी है बेहद प्रिय, महाभारत काल में …

krishna kamal flower
krishna kamal flower

वैसे तो कई साधारण पौधे होते हैं जो गुणों से भरपूर रहते हैं लेकिन कई पौधे ऐसे होते हैं जो दिखने में बेहद साधारण होते हैं और लेकिन असल में ये बेहद चमत्कारी होते हैं और इसके बारे में बेहद ही कम लोग जानते हैं। अगर आप भी पेड़ पौधे लगाने की शौकीन है और आप जानते हैं कि पेड़ पौधे लगाने से इनका आपके जीवन पर सकारात्मक असर पड़ता है।

READ MORE : इतिहास में पहली बार हुआ बड़ा बदलाव, ये दो महिला IPS अधिकारी बनाई गई DGP …

इसी सिलसिले में हम आपको वास्तु शास्त्र में बताए गए एक पौधे के बारे में बताएंगे, जिसे घर पर लगाने मात्र से आपके जीवन की अधिकांश समस्याएं हल हो सकती हैं।

इतना ही नहीं यह पौधा बांके बिहारी यानी कि भगवान श्री कृष्ण को भी बेहद प्रिय है। इस पौधे को ब्रह्मा,विष्णु, महेश यानी हिंदू धर्म के त्रिदेवों का प्रतीक माना जाता है। ऐसे में आपको भी अपने घर के आंगन में यह पौधा लगाना चाहिए।

READ MORE : 50 करोड़ दो वरना जान से मार दूंगा, जेल में बंद कैदी ने इन्हें दी जान से मारने की धमकी, मचा हड़कंप …

इस पौधे का नाम है कृष्ण कमल जिसे अगर आप घर के आंगन में लगाते हैं, तो आपके जीवन में बरकत ही बरकत आएगी। इसे लगाने के लिए आपको अच्छी मिट्टी और गमले का इस्तेमाल करना चाहिए। कृष्ण कमल का महाभारत काल में भी जिक्र किया गया है, जिसे पैशन फ्लावर के नाम से भी जाना जाता है।

कृष्ण कमल के पौधे पर लगने वाले फूल लाल सफेद और बैगनी रंग के होते हैं। मान्यताओं के अनुसार कृष्ण कमल के पौधे के फूल में संपूर्ण महाभारत का सार छिपा है, जिस कारण से भगवान श्री कृष्ण का अवतार माना जाता है।

READ MORE : नाटू-नाटू का जलवा बरकरार, गोल्डन ग्लोब के बाद सीधा ऑस्कर में मारी एंट्री, जानें किस केटेगरी में …

माना जाता है कि जिस भी घर में कृष्ण कमल का पौधा लगा होता है, वहां व्यक्तियों को अपने जीवन की दिक्कतों से लड़ने में आसानी होती है, इसके साथ ही उनके जीवन में भगवान श्रीकृष्ण अपनी विशेष कृपा बनाए रखते हैं।

इस पौधे को घर पर लगाने से आपके ना केवल मानसिक बल्कि शारीरिक स्वास्थ्य को भी बेहद लाभ प्राप्त होता है, ऐसे में आपको कृष्ण कमल का पौधा अवश्य अपने घर के आंगन में लगाना चाहिए।

 

 

Join Whatsapp Group