TopTextSliderक्राइमछत्तीसगढ़ट्रेंडिंगताज़ा खबरस्टोरीज इन फोकस

फर्जी कॉल सेंटर का हुआ खुलासा, क्रेडिट कार्ड बंद करने के नाम पर लाखों की धोखाधड़ी करने वाले अंतर्राज्यीय आरोपियों को रायपुर पुलिस ने किया गिरफ्तार…

रायपुर। रायपुर पुलिस ने एक फर्जी कॉल सेंटर का खुलासा करते हुए दिल्ली से 4 अंतर्राज्यीय ठगों को गिरफ्तार किया है। दरअसल पुलिस पास पीड़ित ने शिकायत की थी कि क्रेडिट कार्ड बंद करने के नाम पर ठगों ने उन्हें गुमराह किया और उनके खाते से 1 लाख 89 हजार रुपए पार कर दिए। पीड़ित ने बताया कि ठगों ने उनसे कहा कि वे अपना क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं जिस पर पीड़ित ने कहा कि वह कार्ड का इस्तेमाल नहीं करना चाहता और वो अपना कार्ड बंद करवाना चाहता है।

ठग ने चतुराई से कहा कि उनके फोन में एक ओटीपी आएगा जिसके बाद उनका कार्ड बंद हो जाएगा। जैसी ही पीड़ित ने अपना ओटीपी बताया, ठगों ने उनके खाते से 1 लाख 89 हजार रुपए पार कर दिए। पीड़ित की शिकायत पर कोतवाली थाना ने धारा 420 के तहत मामला दर्ज कर लिया।

READ MORE : CG Weather Update : छत्तीसगढ़ के इन जिलों में होगी झमाझम बारिश, मौसम विभाग में जारी किया येलो अलर्ट…

इस घटना को गंभीरता से लेते हुए एसएसपी प्रशांत अग्रवाल ने साइबर अपराधियों को पकड़ने के लिए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर सुखनंदन राठौर एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक माहेश्वरी को निर्देशित किया । अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक माहेश्वरी के निर्देशन में एसीसीयू टीम को आरोपियों के संबंध में तकनीकी विश्लेषण कर आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए टीम गठित की गई ।

READ MORE : बोल्ड कपडे पहनकर इवेंट में पहुंची Urfi javed, 18 साल के बच्चे के साथ…यूजर्स बोले – बच्चा है वो… उसे तो बख्श दो…

पुलिस ने जब इस मामले में शिनाख्त की तब उन्हें मालूम पड़ा कि आरोपी दिल्ली के रहने वाले हैं। दिल्ली पहुंचकर जानकारी जुटाने के बाद पुलिस ने 4 ठगों को गिफ्तार कर लिया।

पूछताछ पर आरोपियों ने बताया कि लोगों को फोन करके क्रेडिट कार्ड बंद कराने या लुभावने ऑफर देकर उन्हें अपनी बातों मे उलझाकर ओटीपी प्राप्त कर उनके खातों से रूपये की ठगी करते थे। आरोपी काॅल सेन्टर में बैंठकर फर्जी नंबरों से देश के अलग-अलग लोगों के साथ ठगी करते थे और दिखावे के लिए नौकरी करते थे। पुलिस ने इसके मुख्य आरोपी दिलप्रीत सिंह को गिरफ्तार किया तब उसने अन्य तीन आरोपियों को जानकारी दी जिन्हें दिल्ली के अलग-अलग इलाकों से गिरफ्तार किया गया। आरोपी अब तक उत्तर प्रदेश, गुजरात, मध्य प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र, के लोगों को अपना शिकार बना चुके थे।

READ MORE : CWG 2022 Breaking : भारत के लिए स्वर्णिम दिन, कुश्ती में दीपक पुनिया ने पाकिस्तान के रेसलर को हराकर जीता गोल्ड, एक ही दिन में देश ने जीता तीसरा सोना

आरोपियों के कब्जे से घटना से संबंधित 05 नग मोबाईल फोन, 01 नग आईफोन, 07 नग ए.टी.एम., 01 नग आधार कार्ड एवं ठगी की नगदी रकम 5,000 रुपए जप्त किया गया है। आरोपियों को तिलकनगर (दिल्ली) से गिरफ्तार कर ट्रांजिस्ट रिमाण्ड पर रायपुर लाया गया है। गिरफ्तार आरोपियों से अन्य घटनाओं के संबंध में भी विस्तृत पूछताछ की जा रही है।

पुलिस ने 29 वर्षीय आरोपी चेतन यादव, 26 वर्षीय आलोक कुमार यादव 21 वर्षीय हिमांशु शुक्ला और 30 वर्षीय दिलप्रीत सिंह को गिरफ्तार कर दर्जनों एटीएम कार्ड एंव बैंक खातों के एटीएम एवं चेक पास बुक जप्त किया , साथ ही 07 नग मोबाईल फोन की भी जब्ती की।

Back to top button