TopTextSliderछत्तीसगढ़

अज्ञात बीमारी से 61 आदिवासियों की मौत, कई लोगों की जान अब भी संकट मे, दहशत में ग्रामीण, चढ़ा सियासी पारा

अविनाश दुबे,रायपुर। सुकमा जिले के रेगड़गट्टा गांव में 61 आदिवासियों की मौत से सन्नाटा छा गया है. वहीं गांव के दो दर्जन से ज्यादा लोग बीमार हैं. बीमार ग्रामीणों को इलाज के लिए जिला मुख्यालय कोंटा के अस्पताल में भर्ती कराया गया है. हालात का जायजा लेने के लिए स्वास्थ विभाग की टीम गांव पहुचीं, हालांकि बीमारी का पता अब तक नही चल पाया हैं.

इसे भी पढ़े : CG BIG BREAKING: छत्तीसगढ़ में ED का ताबड़तोड़ एक्शन, रायपुर समेत इन जिलों में धनकुबेरों के ठिकानों पर पड़ी रेड, हो सकता है बेनामी संपत्ति का खुलासा!

स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि बीमार 2 लोग ठीक हो चुके हैं. इस गांव में बीमारी से मौत के ग्रामीणों के दावे की भी जांच की जा रही है. पता लगाया जा रहा है कि आखिर किस बीमारी की वजह से ग्रामीण की मौत हुई है. तबीयत असहज महसूस होने पर ग्रामीणों को तुरंत डॉक्टर से संपर्क करने की सलाह दी गई है.

विभाग ने गांव के हैंडपंपों की जांच करवाई. 2 हैंडपंप में फ्लोराइड की मात्रा ज्यादा पाई गई. ऐसे हैंडपंप को सील कर दिया गया है.ग्रामीणों की मौत पर सियासत भी तेज हो गई है. बीजेपी के 2 पूर्व मंत्री अपने समर्थकों के साथ रेगड़गट्टा गांव के लिए निकले, लेकिन पुलिस ने उन्हें कोंटा में ही रोक लिया.

इसे भी पढ़े : …तो क्या IPL के अगले सीजन में CSK की टीम के साथ मैदान में नहीं दिखेंगे Ravindra Jadeja? क्यों खिलाड़ी ने डिलीट किया ये वायरल कमेंट? पढ़ें

पूर्व मंत्री केदार कश्यप ने आरोप लगाया कि आदिवासियों की मौतें सरकार के लिए सिर्फ आंकड़े हैं. हम लोग वहां जाना चाहते थे और वहां के हालात को देखना चाहते थे, लेकिन पुलिस प्रशासन ने जाने की अनुमति नहीं दी. फिर भी हमारा स्थानीय प्रतिनिधि मंडल जरूर जाएगा.

Back to top button