कुदरत के अनमोल तोहफे आंख को लग रही मोबाइल की नजर! 70 प्रतिशत लोगों पर दिखा इसका ऐसा असर, बचाव के लिए…

रायपुर: इंसान के शरीर का हर एक अंग अनमोल है, इन्हीं में से एक है आँख, जो कुदरत को देखने के लिए कुदरत का सबसे अनमोल तोहफा है. कुदरत के इस तोहफे को आजकल मोबाइल की नजर लगती जा रही है. इसका खुलासा इस साल मेडिकल कॉलेज और जिला अस्पताल में नेत्र रोग विभाग में पहुंचे 23117 मरीजों के अवलोकन में हुआ है.

READ MORE: LIFESTYLE SPECIAL :एसिडिटी की समस्या? विशेषज्ञ की सलाह द्वारा अपनाएं ये सिद्ध घरेलू उपचार

मरीजों के अवलोकन में चौंकाने वाली जानकारी सामने आई, जांच में पता चला कि मोबाइल की वजह से करीब 70 प्रतिशत लोगों की आंखें कमजोर हो गई, हालाँकि इसके कई तरह के और भी कारण हैं, लेकिन इसकी मुख्य वजह मोबाइल ही है। इनमें 21 से 40 साल की उम्र के लोग ज्यादा थे। बच्चों की संख्या भी अच्छी खासी है।

एक मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक, जनवरी 2022 से लेकर 15 जून 2022 तक मेडिकल कॉलेज नेत्र रोग विभाग में 14,534 लोग आंखों की समस्या लेकर पहुंचे। इनमें से 3483 के बड़े और छोटे ऑपरेशन करने पड़े। जिला अस्पताल में 8583 लोग पहुंचे। 164 ऑपरेशन किए गए, वहीँ अन्य को चश्मा लगाने की सलाह दी गई।

unibots video ads

READ MORE: LIFESTYLE SPECIAL STORY: कोहनी का कालापन दूर करें सिर्फ एक हफ्ते में, इन 5 घरेलू उपाय के साथ रोजाना ऐसे लगाएं

डॉक्टर्स ने बताया कि रोशनी की कमी से आंखों की पुतलियां फैल जाती हैं, जिसका परिणाम होता है कि आंख के फोकस में नजदीक और दूर की चीजों के बीच फर्क कम होना। लगातार टीवी, मोबाइल और कंप्यूटर देखने से आंखों की रोशनी कम होने लगती है, क्योंकि इनसे निकलने वाली घातक किरणें हमारी आंखों को बहुत नुकसान पहुंचाती हैं।

READ MORE: Yoga Day 2022 : दिल से जुड़ी बीमारी से छुटकारा दिलाएगा ये योगासन, हर दिन निकाले सिर्फ 10 मिनट

बचाव के लिए अपनाएं ये तरीके:-

आंखों को पर्याप्त आराम देने के लिए 8 घंटे की नींद लें
कंप्यूटर, टीवी या मोबाइल में देख रहे हों तो उचित दूरी बना कर रखें
दिन में 3 से 4 बार अपनी आंखों को ठंडे पानी से अच्छी तरह धोएं
धूप या किसी धूल-मिट्टी वाली जगह पर जाएं तो सनग्लासिज पहनें
खाने में दूध, मक्खन, गाजर, टमाटर, पपीता, अंडे, देसी घी और हरी सब्जियां खाएं
समय-समय पर चेकअप कराते रहें.

Back to top button