ठगे गए किसानों को हक़ दिलाने पूर्व विधायक मंतूराम पवार ने मुख्यमंत्री व कृषि मंत्री को लिखा पत्र…

पखांजुर, बिप्लब कुण्डू: पत्र में ये उल्लेखित किया गया कि विगत दिन पूर्व सम्पूर्ण परलकोट के सैकड़ों किसान के बीच मक्का खरीदी के नाम से कुछ मक्का व्यापारी ( एजेंट ) द्वारा सुमन राय से ऐडवांस पैसा लेकर 1028 किण्टल मक्का खरीदी की है जिसके कुल लागत 7.87 करोड़ कि है जो किसान ठगी का शिकार हुए है जिसके चलते किसानों द्वारा चार पांच दिन तक थाना पखांजूर के सामने मेन रोड में बैठकर चक्का जाम किये थे जिसे देखते हुए शासन प्रशासन ( कलेक्टर कांकेर ) के द्वारा आशवासन देकर यह कहकर शांत किया गया था।

सभी किसानों के मक्का पर्ची को एकजाइ कर लिस्टिंग करने के बाद पैसा जल्दी भुगतान किया जायेगा करके बोला गया था पर सप्ताह भर से भी अधिक दिन गुजरने के बाद भी प्रशासन या क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि के द्वारा संतोष जनक जवाब नहीं मिला है जिसके चलते फिर से किसान मक्का का पैसा के लिए उग्र आंदोलन करते दिखाई दे रहें हैं और 19 जून को 1-2 किसानों ने खुद के शरीर पर पेट्रोल डालने के प्रयास कर आत्मदाह करने का कोशिया की तथा आरोपी व्यापारी सुमन राय के घर एवं परिवार पर भी हमला बोलना चालू कर दिये पर पुलिस प्रशासन के कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के चलते जन माल का नुकसान नहीं हुआ अब किसान इस लिए भी ज्यादा चिंतित है खेती बाड़ी के सिजन और बीज खाद के लिए प्रत्येक किसानों को पैसा की जरूरत है इस लिए किसानों के सारे बातो को ध्यान में रखते हुए शासन को चाहिए तत्काल किसानों के कमाई का पैसा सप्ताह भर के भीतर दि जावे अन्यथा प्रदेश के सभी किसान संगठन एक जूट होकर अनुविभागीय अधिकारी ( राजस्व ) पखांजूर के प्रागंण में अनिश्चित कालीन भुख हड़ताल में बैठने के लिए बाध्य होगे , यदि इस बीच एक भी किसान अपना आपा खोकर या आकोश में आकर सुसाईट आत्महत्या या आत्मदाह जैसे हरकते करता है तो सम्पुर्ण जवाबदेही शासन प्रशासन की होगी । अतः मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से निवेदन है कि आप किसान पुत्र के परिचय देते हुए आरोपी सुमन राय द्वारा मक्का व्यापारियों के ठगी का 7.87 करोड़ रूपए एक सप्ताह में अंदाताओं को पाई पाई पैसा चुकाने की आदेशित करने की महान कृपा करें ।

प्रार्थी –मंतूराम पवार पूर्व विधायक नारायणपुर
प्रतिलिपिः कृषि मंत्री रविंद्र चौबे छत्तीसगढ़ शासन को भी सूचनार्थ ।

Back to top button