अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर किया गया सामूहिक योगाभ्यास

पखांजूर : आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर आज जिले के शैक्षणिक संस्थाओं, आश्रम-छात्रावासों, जेल परिसर में सामूहिक योगाभ्यास किया गया। जिला स्तरीय सामूहिक योग कार्यक्रम छत्तीसगढ़ विधानसभा के उपाध्यक्ष मनोज मण्डावी के मुख्य आतिथ्य में शासकीय नरहरदेव उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के प्रांगण में आयोजित किया गया। जनप्रतिनिधियों, प्रशासनिक अधिकारियों, कर्मचारियों, पुलिस के जवानों, शिक्षकों तथा छात्र-छात्राओं ने सामूहिक योग किया।

सामूहिक योग कार्यक्रम को संबोधित करते हुए छत्तीसगढ़ विधानसभा के उपाध्यक्ष मनोज मण्डावी ने कहा कि योग भारतीय जीवन शैली की प्राचीन पद्धति एवं ऋषि-मुनियों की साधना है, जिसे पूरे विश्व ने योग के रूप में अपनाया है। आज हम आठवां अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मना रहे हैं। योग एक साधना है, स्वस्थ रहने के लिए इसे अपने जीवन में अपनायें। तन और मन को स्वस्थ रखने के लिए योग अति आवश्यक है, इससे कई प्रकार की बीमारियों से छुटकारा मिलती है।

कलेक्टर चन्दन कुमार ने योग कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि आज हम अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मना  रहे हैं। योग भारत की देन है, निरोगी काया के लिए प्रतिदिन योगा करना चाहिए। इसके फायदे को देखते हुए विश्व ने इसे अपनाया है। स्वास्थ्य के लिए यह बहुत अच्छा है। यह एक ऐसा अभ्यास है, जिसे हम कहीं पर भी रहकर कर सकते हैं। योगाभ्यास से शारीरिक, मानसिक एवं मनोवैज्ञानिक रूप से स्वयं को स्वस्थ्य रख सकते हैं। आप प्रतिदिन योगाभ्यास अवश्य करें।

सामूहिक योग कार्यक्रम में जनप्रतिनिधियों, अधिकारी-कर्मचारियों, पुलिस के जवानों, शिक्षकों तथा छात्र-छात्राओं ने सामूहिक योगाभ्यास एवं प्राणायाम किया। योग शिक्षक मोहन सेनापति और कुश कुमार साहू द्वारा विभिन्न योग क्रियाओं जैसे -शिथलीकरण, ग्रीवाचालन, स्कंध संचालन, सूर्य नमस्कार, कटि चालन, घुटना चालन, ताड़ासन, पादहस्तासन, अर्धचक्रासन, त्रिकोणासन, भद्रासन, वज्रासन, शशकासन, उत्तानमंडूकासन, वक्रासन, मकरासन, भुजंगासन, शलभासन, सेतुबंधासन, उत्तानपाद आसन, अर्धहलासन, पवनमुक्तासन, श्वाससन, कपालभाति, अनुलोम-विलोम, प्राणायाम इत्यादि का योगाभ्यास कराया गया।  इस अवसर पर छत्तीसगढ़ अनुसूचित जनजाति आयोग के सदस्य नितिन पोटाई, गौ-सेवा आयोग के सदस्य नरेन्द्र यादव, जिला पंचायत अध्यक्ष हेमन्त ध्रुव, पुलिस अधीक्षक शलभ कुमार सिन्हा, वन मण्डलाधिकारी कांकेर आलोक बाजपेयी, अपर कलेक्टर एस.पी. वैद्य सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी-कर्मचारी, शिक्षक-शिक्षिकाएं एवं  छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।

Back to top button