Digital Currency के युग में इस देश में चलती है पत्थर की मुद्रा, हर मुद्रा का आकार अलग, उसी से पहचानी जाती है कीमत

नई दिल्ली। देशों को उनके कानून, रहन-सहन उन्हें सबसे अलग बनाते हैं। वही एक देश ऐसा है, जहां इस आधुनिक युग में भी पत्थर की मुद्रा का चलन है। और भी कई अजब-गजब कारनामे हैं, जिनके बार में हम इस खबर में बात करेंगे। प्रशांत महासागर के पश्चिमी हिस्से में बसे इस द्वीपीय देश में बहुत से ऐसे पत्थर की मुद्राएं मिल जाएंगी, जिनके जरिए लोग लेन-देन करते हैं। इस अनोखी मुद्रा और अनोखे देश को देखने के लिए हर साल दूर-दूर से पर्यटक यहां आते हैं।

READ MORE : Cryptocurrency : एल सल्वाडोर के क्लब में शामिल हुआ ये देश, बिटक्वाइन को बनाया लीगल टेंडर, जानें क्यों उठाया यह कदम

आज के समय तमाम देश प्लास्टिक मनी से होते हुए डिजिटल करेंसी की ओर बढ़ रहे हैं। हाथ में पैसा नहीं, मगर पैसे का भुगतान पलक झपकते हो जाता है। लाखों-करोड़ों रुपए के वारे-न्यारे एक झटके में हो जाते हैं। इसके फायदे भी बहुत हैं। खोने या गायब होने, चोरी, लूट या फिर डकैती जैसा डर भी नहीं। खाली हाथ जाइए और भरे हुए हाथ वापस लौटिए।

READ MORE : आज हम आपको बताएंगे Money plant लगाने के फायदें और नुकसान

आपकी जानकारी के लिए बता दें माइक्रोनेशिया यह एक द्वीपीय देश है। यह प्रशांत महासागर के पश्चिमी क्षेत्र में छोटे-छोटे द्वीपों से मिलकर बना है। इस देश की मुद्रा पत्थर है। जी हां, आप यकीन करें या नहीं, मगर यह सही है। जैसे भारत में मुद्रा को रुपया कहते हैं, वैसे ही वहां मुद्रा को राई कहा जाता है। ये आकार में गोलाकार, मगर चपटे होते है। साइज कुछ भी हो सकती है। मगर जितनी बड़ी साइज रकम उतनी ज्यादा। इन पत्थरों के बीच में छेद भी होता है।

READ MORE : महंगाई से हाल-बेहाल, खाने-पीने के सामान की कीमतों में लगी आग, रिकॉर्ड स्तर पर थोक मुद्रास्फीति

unibots video ads

वही 11 हजार की आबादी वाले इस देश की आधिकारिक मुद्रा अमरीकी डॉलर है, मगर लेन-देन पत्थर यानी राई में भी किया जाता है। जितना बड़ा पत्थर कीमत उतनी ज्यादा। कुछ पत्थरों के आकार तो चार मीटर तक होते हैं। यहां सैंकड़ों विभिन्न आकार के पत्थर देखने को मिल जाएंगे।

Back to top button