मानसून से पहले किसानों पर राहत की बारिश: तिल के दाम 523 रुपए तो मूंग पर प्रति क्विंटल 480 रुपए की बढ़ोत्तरी,मोदी सरकार ने बढ़ाए इन 17 फसलों के MSP

नई दिल्ली। (Modi cabinet decision) मानसून सीजन में देश में बोये जाने वाली 17 खरीफ फसलों के लिए केंद्र की मोदी सरकार ने MSP में (increase in MSP for 17 Kharif crops) बढ़ोतरी करने का फैसला लिया है। इनमें दलहन की फसलें शामिल हैं।

कैबिनेट के फैसलों की जानकारी देते केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने बताया कि साल 2022-23 के लिए खरीफ फसलों का MSP बढ़ने से किसानों को अब नए दाम पर अपनी फसल की बिक्री करने का मौका मिलेगा और उनकी कमाई में इजाफा होगा।

केंद्रीय मंत्री ने कैबिनेट के फैसले की जानकारी देते हुए बताया कि तिल के दाम में 523 रुपये की बढ़ोतरी होगी। मूंग पर प्रति क्विंटल 480 रुपए, सूरजमुखी पर 358 रुपए व मूंगफली पर 300 रुपए की बढ़ोतरी की जाएगी। बता दें कि ये लगातार तीसरा साल है जब केंद्र सरकार ने खरीफ की फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाया है।

जानें क्या है फसलों को MSP रेट

एमएसपी वह न्यूनतम समर्थन मूल्य है जो किसानों को उनकी फसल पर मिलता है। फसलों की कीमतों में बाजार में होने वाले उतार-चढ़ाव का असर किसानों पर नहीं पड़ता।

सरकार हर फसल सीजन से पहले सीएसीपी यानी कमीशन फॉर एग्रीकल्चर कॉस्ट एंड प्राइजेस की सिफारिश पर एमएसपी तय करती है। खरीफ के अंतर्गत धान (चावल), मक्का, ज्वार, बाजरा, मूंग, मूंगफली, गन्ना, सोयाबीन, उडद, तुअर, कुल्थी, जूट, सन, कपास आदि शामिल हैं।

unibots video ads
Back to top button