केरल में Tomato Flu 80 से अधिक बच्चे प्रभावित, कहीं आपके बच्चों में भी तो नहीं हैं ये लक्षण, जानें कैसे करें बचाव

कोल्लम। देश में कोरोना (Corona) अभी पूरी तरह खत्म हुआ नहीं हुआ है वहीं केरल (Kerala) अब एक और रहस्यमय बीमारी से (Tomato Flu) जूझ रहा है। स्थानीय मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, 80 से अधिक बच्चे इस बीमारी से प्रभावित हैं, जिसे “टमाटर बुखार” भी कहा जाता है। सभी मामले कोल्लम से सामने आए हैं।

Tomato Flu क्या है

यह एक दुर्लभ वायरल बीमारी है, जो लाल रंग के चकत्ते, त्वचा में जलन और निर्जलीकरण का कारण बनती है। इस रोग का नाम इसके कारण होने वाले फफोले से पड़ा है, जो टमाटर की तरह दिखते हैं। केरल में टमाटर का बुखार पांच साल से कम उम्र के बच्चों को प्रभावित कर रहा है।

Tomato Flu के लक्षण

प्रभावित बच्चे को टमाटर के आकार के छाले हो सकते हैं, जो लाल रंग के होते हैं। अन्य लक्षणों में चिकनगुनिया की तरह तेज बुखार, शरीर में दर्द, जोड़ों में सूजन और थकान शामिल हैं। दक्षिणी राज्य के आर्यनकावु, आंचल और नेदुवथुर से भी मामले सामने आए हैं।

READ MORE-सुप्रीम कोर्ट ने माना: वेश्यावृत्ति भी एक पेशा है, पुलिस बेवजह सेक्स वर्कर्स को परेशान न करे, जानें और क्या कहा

unibots video ads

तमिलनाडु-केरल सीमा पर निगरानी

केरल के पड़ोसी जिलों में से एक में टमाटर फ्लू के प्रसार के खिलाफ एक कदम के रूप में, तमिलनाडु-केरल सीमा पर वालयार में एक मेडिकल टीम बुखार, चकत्ते और अन्य बीमारी (ऐसे फ्लू के लक्षण) के लिए कोयंबटूर में प्रवेश करने वालों के लिए परीक्षण कर रही है।

रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि दो चिकित्सा अधिकारी सभी वाहनों के यात्रियों, विशेषकर बच्चों की जांच के लिए टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। आंगनबाड़ियों में पांच साल से कम उम्र के बच्चों की जांच के लिए 24 सदस्यीय टीम भी बनाई गई है।

Back to top button