मोदी सरकार के 8 साल: 7 से 18 राज्यों तक लहराया भगवा परचम, 2024 के लिए तैयार हुआ ‘144 फॉर्मूला’

नई दिल्ली। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार( 8 years of Narendra Modi government) ने गुरुवार 26 मई को अपने शानदार 8 साल पूरे किए। 2014 में केंद्र में मोदी सरकार आई थी तब देश में 7 राज्यों में ही भाजपा की सरकार थी, जो संख्या अब बढ़कर 18 हो गई है।

आइए एक नजर डालते हैं उन कारणों पर जिसने मोदी सरकार के 8 सालों में 7 से 18 राज्यों तक पहुंचा दिया-

मोदी सरकार 2014 में जब केंद्र की सत्ता में आई थी तो मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, गुजरात, राजस्थान समेत 7 राज्यों में ही सरकार थी, लेकिन आज देश के 18 राज्यों में भाजपा सत्ता में है।

यही नहीं 2018 में तो यह आंकड़ा 21 राज्यों तक पहुंच गया था यानी देश की 70 फीसदी आबादी भारत शासित राज्यों में बसती थी। अब भले ही आंकड़ा घटकर 18 का है, लेकिन यह भी उसके लिए बड़ी सफलता है।

ये भी याद दिला दें कि बीते सप्ताह जयपुर में हुई भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक को संबोधित करते हुए भी पीएम नरेंद्र मोदी ने इस बात का जिक्र करते हुए कहा था कि भले ही आज हमारे देश में 400 से ज्यादा सांसद हैं और 1300 से ज्यादा विधायक हैं। 18 राज्यों में हमारी सरकार है, लेकिन अब भी हमें रुकना और थकना नहीं है।

READ MORE-ब्रेकिंग: डाक बाबू को लगा IPL सट्टे का चस्का, पोस्ट ऑफिस में जमा 1.25 करोड़ लगा दिए दांव पर, फिर…

unibots video ads

2022 में 5 राज्यों के विधानसभा चुनावों में 4 राज्यों में मिली जीत

यही नहीं इसी साल मार्च में हुए 5 राज्यों के विधानसभा चुनावों में भाजपा ने 4 राज्यों में जीत हासिल की थी, जिनमें वह पहले ही सत्ता में थी। उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड जैसे राज्यों में लंबे समय बाद सरकारें रिपीट हुई हैं, जिसे भाजपा की एक बड़ी सफलता माना जा रहा है।

READ MORE-सुप्रीम कोर्ट ने माना: वेश्यावृत्ति भी एक पेशा है, पुलिस बेवजह सेक्स वर्कर्स को परेशान न करे, जानें और क्या कहा

फिलहाल हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, बिहार, मध्य प्रदेश प्रदेश, कर्नाटक, गुजरात, अरुणाचल, असम और मणिपुर समेत कई राज्यों में भाजपा की सरकार है। उत्तर भारत के पर्वतीय राज्य से लेकर पूर्वोत्तर भारत के कई राज्यों में भाजपा सत्तासीन है।

8 साल में 8 बड़े फैसले, जिसने भाजपा को पहुंचाया बुलंदियों पर

  1. 2014 : नोटबंदी
  2. 2016: सर्जिकल स्ट्राइक
  3. 2017: जीएसटी लागू करना
  4. 2018:किसान सम्मान निधि योजना
  5. 5.2018: आयुष्मान भारत योजना
  6. 2019 : तीन तलाक
  7. 2019: जम्मू कश्मीर धारा 370
  8. 2020: CAA कानून

.2024 की तैयारी के लिए ‘144 फॉर्मूला’

भाजपा ने 2024 के लोकसभा चुनाव के लिए भी अभी से ही तैयारी शुरू कर दी है। इसके लिए उसने 144 का फॉर्मूला तैयार किया है। यानी उन 144 लोकसभा सीटों पर भाजपा ज्यादा फोकस करना चाहती है, जहां वह अब तक कमजोर रही है।

माना जा रहा है कि ‘144 फॉर्मूला’ के तहत भाजपा उत्तर प्रदेश, हरियाणा, मध्य प्रदेश जैसे राज्यों में यदि उसे थोड़ा झटका भी लगता है तो वह अन्य राज्यों में बढ़त हासिल कर संतुलन बना लेगी।

Back to top button