झीरम पर रार: CM भूपेश बोले- ‌BJP जांच क्यों होने नहीं देना चाहती, रमन ने कहा- रिपोर्ट सार्वजनिक क्यों नहीं करते

रायपुर। छत्तीसगढ़ के बहुचर्चित झीरमघाटी नक्सल कांड के नए न्यायिक जांच आयोग की सुनवाई और कार्यवाही पर हाईकोर्ट की रोक के बाद सीएम भूपेश बघेल और पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने एक दूसरे पर हमला बोला।

पूर्व सीएम डॉ. रमन ने ट्वीट कर कहा कि झीरमघाटी मामले में नए जांच आयोग भूपेश सरकार के गाल पर हाईकोर्ट का एक और तमाचा है! झीरम मामले में राज्य सरकार द्वारा गठित नए आयोग की कार्यवाही पर कोर्ट ने रोक लगा दी है।

पुराने आयोग की रिपोर्ट सार्वजनिक किए बिना ही सरकार ने नया आयोग बना दिया था। कांग्रेस सरकार आखिर किसे बचाने की कोशिश कर रही है?

सीएम भूपेश बघेल ने झीरम मामले में आयोग को नोटिस पर भाजपा पर सवाल खड़ा किया। भूपेश ने कहा कि भाजपा और खासकर धरमलाल कौशिक नान मामले में भी हाई कोर्ट चले गए, ताकि जांच ना हो सके। झीरम मामले में भी वह जांच नहीं होने देना चाहते। आखिर भाजपा को परेशानी क्या है। वह जांच क्यों नहीं होना देना चाहते। आखिर किसे बचाना चाहते हैं।

नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने लगाई है याचिका

बता दें कि छत्तीसगढ़ विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने भूपेश बघेल सरकार द्वारा नए आयोग के गठन करने की वैधानिकता को चुनौती दी है। बुधवार को याचिका की सुनवाई करते हुए चीफ जस्टिस अरुप कुमार गोस्वामी और जस्टिस आरसीएस सामंत ने राज्य शासन और आयोग को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। अगली सुनवाई 4 जुलाई को होगी।

Back to top button