ये हैं भारत के 5 सबसे लंबे और खूबसूरत पुल, जिन्हें देखने दूर-दूर से आते हैं टूरिस्ट, जानिए इनकी विशेषता

नई दिल्ली :  कुछ लोगों को ट्रेवल करना बेहद पसंद होता है। भारत में कुछ ऐसे टूरिस्ट प्लेस हैं, जो अपनी खूबसूरती के लिए मशहूर हैं और लोग उन्हें देखने दूर-दूर से आते हैं। हम बात कर रहे हैं भारत के सुंदर पुलों की, जिनका अपना इतिहास है और अपनी आर्किटेक्चरल स्ट्रक्चर विशेषताएं हैं। कुछ पुल को तो देखकर हर कोई यही बोलता है कि आखिर इन्हें कैसे बनाया गया होगा। तो  चलिए आज हम आपको भारत के कुछ ऐसे ही पुलों के बारे में बताते हैं…… 

हावड़ा ब्रिज, कोलकाता

कोलकाता का हावड़ा ब्रिज से रोजाना 100,000 से अधिक वाहन अधिक 150,000 से अधिक पैदल यात्री। बंगाल की खाड़ी के पानी पर बना यह पुल बिना किसी नट और बोल्ट के बनाया गया है।

पंबन ब्रिज, रामेश्वरम

पंबन ब्रिज तमिलनाडु में भारत का पहला समुद्री पुल है, जिसे 1914 में खोला गया था। पंबन रेलवे पुल 1988 तक रामेश्वरम द्वीप के बीच एकमात्र लिंक के रूप में कार्य करता था। तभी एक सड़क पुल का निर्माण किया गया था।

बांद्रा-वर्ली सी लिंक

बांद्रा-वर्ली 5.6 किमी में फैला, बांद्रा-वर्ली सी लिंक पानी के ऊपर बना भारत का सबसे लंबा पुल है। 2009 में खोला गया, सी-लिंक बांद्रा और वर्ली के बीच की यात्रा 60 मिनट से घटकर सिर्फ 20 मिनट हो जाती है।

कोलिया भोमोरा सेतु, सोनितपुर

ब्रह्मपुत्र नदी के गिरते पानी में 3 किमी लंबे कोलिया भोमोरा सेतु भी हैं, जो उत्तरी तट पर सोनितपुर को दक्षिण तट पर नागांव जिले से जोड़ता है।  शाम के समय इस खूबसूरत पुल पर ड्राइव करने में बेहद मजा आता है।

वेम्बनाड ब्रिज, कोच्चि

भारत का सबसे लंबा रेल पुल, वेम्बनाड ब्रिज केरल के सबसे खूबसूरत बैकवॉटर के नजारे पेश करता है। ये ब्रिज कोच्चि में एडापल्ली और वल्लारपदम को जोड़ता है।  4.6 किमी से अधिक लंबा ये ब्रिज माल ढुलाई करने वाली ट्रेनों के लिए निर्धारित किया गया है।

Back to top button