निमार्णाधीन स्लेरी पाईप लाईन के संयंत्र के गिरा भैंस, क्रेन की मदद से निकाला बाहर, फिर ये हुआ हाल, मुआवजे की मांग

निमार्णाधीन स्लेरी पाईप लाईन के संयंत्र के गिरा भैंस, क्रेन की मदद से निकाला बाहर, फिर ये हुआ हाल, मुआवजे की मांग

 

फकरे आलम/बचेली: निमार्णाधीन स्लेरी पाईप लाईन के संयंत्र के पास में डूंगी पिता स्व. सुकलू निवासी पटेलपारा बड़े बचेली की भैंस दल दल युक्त फाईन ओर में फस गयी थी। जिसे निकालने के लिये क्रेन की मदद लेना पड़ा बड़ी मुश्किल से बाहर निकाला गया। किन्तु भैंस की मृत्यु हो गई ।

डूंगी पिता स्व सुकलू ने भैंस दल-दल में फं ंस गया था। बाहर निकालने के बाद उसकी मृत्यु हो गई। इसकी क्षतिपूर्ति के रूप में मुझे रुपए 20,000.00 (रुपए बीस हजार) देने की मांग बचेली परियोजना प्रबंधक स्लेरी पाईप लाईन प्रोजेक्ट बचेली काम्पलैक्स से की है आवेदन दिया है।
परियोजना क्षेत्र खुला होने से और घेराबंदी के आभाव में आस पास गाव के जानवर परियोजना के क्षेत्र मे चारे की खोज मे नित्य देखे जाते है और अक्सर खतरनाक जगह पर दुर्घटना ग्रस्त हो कर जान गवा देते है .
जागरूकता के आभाव मे जानवर का मालिक क्षतिपूर्ति राशि की मांग भी नही कर पाते है अब देखना है डूंगी पिता सुकलू निवासी पटेलपारा बड़े बचेली को कब तक क्षतिपूर्ति की राशि परियोजना प्रबंधक स्लेरी पाईप लाईन देती है.

Back to top button