RAIPUR : गांजा तस्करी बढ़ने से शहर में बढ़ रहा अपराध, पुलिस की अनदेखी से तस्कर बेलगाम

रायपुर। राजधानी में नशे का कारोबार तेजी से बढ़ोतरी हुई हैं। पुलिस गांजा तस्करी को रोकने का दावा तो करती हैं, लेकिन यह दावा कहीं न कहीं खोखला साबित हो रहा है। शहर के गली-मोहल्ले, सामाजिक स्थानों पर अराजकता तत्वों के लोगों का जमावड़ा लगा रहता है। ये लोग नशे से धुत होकर चाकू की नोंक पर अपराध करने से परहेज नहीं करते। शहर में कम उम्र के बच्चे भी इस अपराध में पीछे नहीं है। छोटी छोटी बातों पर चाकू बाजी की घटनाऐं हो रही हैं. सबसे ज्यादा 18 से 25 साल के युवा इसके गिरफ्त में हैं। यदि पुलिस सख्ती से करती तो अवैध गतिविधियों पर लगाम लगाया जा सकता है।

 

पिछले एक माह में राजधानी में जब्त गांजा

 

रायपुर की पुलिस ने सितम्बर माह में सबसे ज्यादा गाँजा बरामद की है । आमा नाका थाना क्षेत्र में 25 किलो गांजा जब्त की गई थी, खमतराई थाना क्षेत्र में 11 किलो गांजा जब्त , मंदिर हसौद थाना क्षेत्र में 34 किलो गांजा जब्त , गोलबाजार थाना क्षेत्र में 2500 ग्राम गांजा जब्त , खरोरा थाना क्षेत्र में 5 किलो गांजा जब्त ,रेलवे स्टेशन में 53 किलो गांजा जब्त की गई थी.

 

प्रदेश के अन्य जिले में गांजा जब्त

 

सुकमा पुलिस ने 584 किलो गांजा जब्त बस्तर पुलिस ने 680 किलो गांजा जब्त, महासमुंद पुलिस ने 34 किलो गांजा जब्त किया गया था.

लगातार होगी कार्रवाई

 

नशे के खिलाफ पुलिस लगातार अभियान चला रही है। गांजा तस्कर भी पकड़े भी जा रहें हैं। सूचना और इनपूट के आधार पर हम कार्रवाई भी कर रहे है और आगे भी कार्रवाई जारी रहेगीं।
ताकेश्वर पटेल, एडिशनल एसपी, रायपुर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button