K9-Vajra जिसकी हो रही जमकर चर्चा, सेना ने की है LAC पर तैनाती

नईदिल्ली। K9-Vajra howitzer की तैनाती सेना ने Line of Actual Control ( LAC) पर कर दी है। इन गन की मारक क्षमता 50 किलोमीटर तक है। चीन से तनातनी के बीच LAC पर K9-Vajra की तैनाती एक महत्वपूर्ण कदम माना जा रहा है। देश के सबसे कठिन रणक्षेत्र लेह और लद्दाख के करीब स्थित चीन की सीमा के पास करीब 16 हजार फीट की ऊंचाई पर इसकी मारक क्षमता परखने के लिए तैनात किया गया है।
बताते चलें कि चीन और भारत के बीच विवाद की स्थिति बनी हुई है। दोनों देशों के बीच 12 दौर की बातचीत हो चुकी है और 13वें दौर की बातचीत जल्द प्रस्तावित है। सेना प्रमुख एम एम नरवणे ने भी शुक्रवार को LAC का दौरा कर भारतीय सेना के जवानों का हौंसला बढ़ाया था और चीन को चेतावनी भरे अंदाज में कहा था कि भारत हर स्थिति का मुकाबला करने में सक्षम है। बतादें कि भारतीय सेना में लंबे समय बाद किसी आर्टिलरी की एंट्री नहीं हुई थी।

Read More : ड्रैगन को उसी की भाषा में सेना प्रमुख M M Naravane ने दिया जवाब

इस वजह से बहुत खास है K9-Vajra

  • 155 एमएम-52 वजनी तोप 80 प्रतिशत तक भारत में बनाई गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मेक इन इंडिया के तहत इसका निर्माण गुजरात में लार्सन एंड ट्यूब्रो (L&T) ने किया है।
  • L&T ने साल 2017 में 4,500 करोड़ का कॉन्ट्रैक्ट रक्षा मंत्रालय से हासिल किया था। इसके तहत L&T को 100 तोप बनाकर देना है।
  • पहली 10 तोपों को दक्षिण कोरिया से इम्पोर्ट कर भारत में ही L&T द्वारा असेम्बल की गईं।
  • यह तोप 15 सेकंड के अंदर तीन गोले दागने की क्षमता रखती है जिससे दुश्मनों के दांत खट्टे हो सकते हैं।
  • इसमें 52 मिमी की तोप लगी है जो 18 से 52 किलोमीटर तक फायर कर सकती है।
  • यह किसी भी प्रकार के मैदान में चल सकती है और इसका ताकतवार इंजिन इसे एक अच्छी गति प्रदान करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button