PM MODI ने राजस्थान को दिया हेल्थ कार्ड और 4 मेडिकल कॉलेजों की सौगात 

राजस्थान | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM MODI) ने गुरुवार को राजस्थान के बांसवाड़ा, सिरोही, हनुमानगढ़ और दौसा जिलों में चार नए मेडिकल कॉलेजों का वर्चुअल शिलान्यास किया। साथ ही उन्होंने जयपुर में सेंट्रल इंस्टीट्यूट ऑफ पेट्रोरसायन प्रौद्योगिकी संस्थान ( CIPET ) का उद्घाटन भी किया। शिलान्यास और उद्घाटन के बाद अपने संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM MODI) ने स्वास्थ्य क्षेत्र की कमियों को दूर कर स्वास्थ्य शिक्षा बढ़ाने के साथ लोगों को अच्छी चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने पर जोर दिया।

पीएम (PM MODI) ने कहा कि 22 एम्स खोलने के साथ ही हर जिले में मेडिकल कालेज खोलने का प्रयास जाएगा। मोदी कहा कि चिकित्सा की सुविधाओं में कमियों को दूर कर नए मेडिकल कालेज खोलने के साथ विशेषज्ञ चिकित्सा उपलब्ध कराने के लिए छह एम्स की स्थापना की जा रही है। उन्होंने कहा कि 170 मेडिकल कालेज तैयार हो चुके है तथा काम चल रहा हैं। चिकित्साकर्मियों की कमी को दूर करने के लिए स्नातक और स्नातकोत्तर की 82 हजार सीटों से बढ़ाकर एक लाख 40 हजार तक सीटें बढ़ाई गई हैं, ताकि ज्यादा से ज्यादा विद्यार्थियों को डाक्टर बनने का मौका मिल सके।

कोरोनाकाल की चर्चा करते हुए मोदी ने कहा कि इस बीमारी में देश को आत्मनिर्भर बनाने का जो अवसर दिया उसमें हम पीछे नहीं रहे। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य क्षेत्र में सुधार के लिए ही नेशनल मेडिकल कमिशन बनाया गया है तथा भारत डिजिटल मिशन सवास्थ्य सेवाओं को कौने-कौने तक पहुंचाने में मरीजों का हैल्थ रिकार्ड के संधारण में मदद करेगा। सबको मुक्त वेक्शिन कार्यक्रम के तहत देश में 88 करोड से अधिक डोज लगाई जा चुकी है तथा राजस्थान में भी पांच करोड़ से अधिक डोज लगाई जा चुकी है। पीएम ने कहा कि मेडिकल और टेक्निकल शिक्षा को हिन्दी और क्षेत्रिय भाषाओं में शुरू किया जा रहा है ताकि अंग्रेजी नहीं पढ सकने वाले विद्यार्थियों को भी इसका लाभ मिल सकेगा।

पीएम मोदी ने कहा कि योग और आयुर्वेद को आयुष मंत्रालय में शामिल कर चिकित्सा क्षेत्र मेंं बढ़ोतरी करने के प्रयास किए जा रहे हैं। बाड़मेर में रिफाइनरी परियोजना की चर्चा करते हुए मोदी ने कहा कि इसमें 70 हजार करोड़ से ज्यादा का निवेश होगा तथा रोजगार के कई अवसर मिलेगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में हर जिले में पाइप से घरेलू गैस उपलब्ध कराने पर काम चल रहा है तथा जल जीवन मिशन के तहत 21 लाख परिवारों को पाइप से पानी दिया जाने लगा है।

उन्होंने कहा कि राजस्थान में 13 लाख से अधिक पक्के घर बनाए गए है तथा किसानों को 15 हजार करोड़ रुपए का कृषि बीमा लाभ मिला है। इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत एवं चिकित्सा एव स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया, केंद्रीय रसायन एवं ऊर्वरक राज्यमंत्री भगवंत खुबा, केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्यमंत्री डॉ. भारती प्रवीण पवार भी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button