एप में 21.29 लाख पंजीकृत, तलाश रहे आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग , पढ़ें पूरी खबर

सर्वे 1 सितम्बर से शुरू ऑनलाइन पंजीयन 12 अक्टूबर तक

रायपुर। अन्य पिछड़ा वर्ग व आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों की तलाश करने के लिए छत्तीसगढ़ क्वांटिफायबल डॉटा आयोग ने एक एप तैयार किया है। जिसमें अब तक (28 सितम्बर तक) 21 लाख 29 हजार 275 आवेदन पंजीकृत हुए हैं। आयोग द्वारा 1 सितम्बर से शुरू सर्वेक्षण का काम आगामी 12 अक्टूबर तक चलेगा।

छत्तीसगढ़ क्वांटिफायबल डॉटा आयोग के सचिव बी.सी. साहू ने बताया कि सर्वेक्षण के लिए अब तक बालोद जिले के एक लाख 71 हजार 187, बलौदाबाजार-भाटापारा के 46 हजार 665, बलरामपुर-रामानुजगंज के 3644, बस्तर के 11 हजार 648, बेमेतरा के 25 हजार 142, बीजापुर के 3321, बिलासपुर के 4235, दंतेवाड़ा के 8716, धमतरी के 41 हजार 143, दुर्ग के 6357, गरियाबंद के एक लाख 56 हजार 862, गौरेला-पेंड्रा-मरवाही के 19 हजार 368, जांजगीर-चांपा के तीन लाख 24 हजार 173 और जशपुर के 18 हजार 095 आवेदकों ने ऑनलाइन पंजीयन कराया है।

श्री साहू ने बताया कि कांकेर जिले में 25 हजार 047, कबीरधाम में 7279, कोंडागांव में 16 हजार 760, कोरबा में 38 हजार 443, कोरिया में 44 हजार 531, महासमुंद में तीन लाख 56 हजार 113, मुंगेली में 63 हजार 886, नारायणपुर में 2180, रायगढ़ में 70 हजार 172, रायपुर में दो लाख 79 हजार 389, राजनांदगांव में तीन लाख 73 हजार 932, सरगुजा में 4761, सुकमा में 2941 और सूरजपुर जिले में 3285 आवेदन अन्य पिछड़ा वर्ग तथा आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के सर्वेक्षण के लिए अब तक पंजीकृत हुए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button