World Heart Day : इन आदतों से रख सकते हैं अपने हार्ट को हेल्दी

लाइफस्टाइल | भारत में हर चार में से एक मौत कार्डियोवस्कुलर डिजीज (सीवीडी) की वजह से होती है. सिर्फ हमारे देश में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में लोग दिल से जुड़ी कई समस्याओं से जूझ रहे हैं. इसलिए, आपके दिल (heart) के स्वास्थ्य को इनटैक्ट रखने की गंभीरता के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए एक खास दिन को समर्पित किया गया है, और ये है “विश्व हृदय दिवस”.

हेल्दी हार्ट (heart) के लिए और हेल्दी लाइफ स्टाइल को बढ़ावा देने के लिए हर वर्ष 29 सितंबर को ये दिन मनाया जाता है. और अपने शरीर के इस सबसे महत्वपूर्ण अंग को हेल्दी रखने का एक तरीका नियमित रूप से एक्सरसाइज करना है. डॉक्टरों के मुताबिक, एक औसत व्यक्ति को सप्ताह में कम से कम तीन दिन एक्सरसाइज करना चाहिए.

इसलिए, यहां हम 5 एक्सरसाइजेज की एक लिस्ट के साथ हैं जो आपके दिल (heart) से संबंधित हेल्थ प्रॉब्लम्स को अलविदा कहने में आपकी मदद कर सकते हैं.

जुम्बा करने की कोशिश करें

एक मजेदार लेकिन इंटेंस जुम्बा डांस सेशन में तल्लीन होना जरूरी हो जाता है. वजन घटाने और शरीर को टोन करने के लिए ये एक्सरसाइज स्टाइल बहुत अच्छा है. डांस फॉर्म कार्डियोवस्कुलर हेल्थ को बढ़ाता है और तनाव को दूर करने और कॉर्डिनेशन में सुधार करने में मदद करता है.

घूमना

चलना दिल के लिए सबसे अच्छे एक्सरसाइजेज में से एक माना जाता है. ये न सिर्फ आपके कार्डियोवस्कुलर हेल्थ को बरकरार रखता है बल्कि वजन कम करने में भी मदद करता है.

साइकिलिंग

साइकिलिंग एक ऐसी एक्टिविटी है जो जोड़ों पर जेंटल होती है. ये फैट बर्न करती है और आपके कार्डियोवस्कुलर हेल्थ में सुधार करता है. अगर आप अपनी सहनशक्ति को बढ़ाना चाहते हैं और साथ ही अपनी मांसपेशियों को टोन करना चाहते हैं, तो साइकिल चलाना ऐसा करने का सबसे अच्छा तरीका है. आप इसे अपने दिन में ट्रांसपोर्ट के साधन के रूप में बनाकर आसानी से अपनी डेली रूटीन का हिस्सा बना सकते हैं.

स्क्वाट

फिटनेस के प्रति उत्साही लोगों के बीच स्क्वाट सबसे फेमस एक्सरसाइज में से एक है. जब नियमित रूप से इसे किया जाता है, तो ये एक्सरसाइज आपके पैरों को टोन कर सकता है और आपके ग्लूट्स और मांसपेशियों को मजबूत कर सकता है. इसके अलावा, ये एक्टिविटी ब्लड सर्कुलेशन और कार्डियोवस्कुलर हेल्थ को भी बढ़ावा देती है.

रस्सी कूदना या कूदना

रस्सी कूदना या कूदना आपके कार्डियोवस्कुलर हेल्थ के लिए बहुत अच्छा है क्योंकि वो एक्सरसाइज करते समय हार्ट रेट को बढ़ाते हैं. ये न केवल आपको एक्स्ट्रा किलो वजन कम करने में मदद करेगा बल्कि हार्ट डिजीज और स्ट्रोक होने की संभावना को भी कम करेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button