इस दिन समस्त पितरों को अर्पित करें तर्पण, मिलेगी आपके मन को शांति

पितृ पक्ष के सर्वपितृ अमावस्या को गया में अपने समस्त पितरों तर्पण अर्पित करें. इसके कई सारे लाभ है जैसे- आपके मन को शांति मिलेगी, पारिवारिक शांति मिलेगी , पितरों की मुक्ति व पितृ दोष का निवारण होगा, सभी पूर्वज प्रसन्न होंगे, सुख साधन तथा धन धान्य की प्राप्ति होगी, आकस्मिक बीमारियों से मुक्ति मिलेगी और  वंश वृद्धि में कोई रूकावट नही आएगी.

श्राद्ध पूजा की विधि इस प्रकार रहेगी –

सर्वप्रथम पितरो की मुक्ति के लिए तर्पण किया जाएगा उनको भोग लगाया जाएगा इन पांच को भोग मे किया जाएगा शामिल

गाय का भोजन
ब्राह्मणो का भोजन
चीटियों का भोजन
कौए का भोजन
कुत्ते का भोजन

पितृ पक्ष में अपने पूर्वजों के देहांत की तिथि को श्राद्ध कराने का प्रावधान है, लेकिन यदि आप वो तिथि या दिन भूल गए हैं तो आप पितृ पक्ष की अमावस्या को सर्वपितृ अमावस्या पूजा करा के लाभ प्राप्त कर सकते हैं। पूर्वजों का श्राद्ध न करने पर पितर, पितृ योनि से प्रेत योनि में आ जाते हैं। अतः अपने पितरों की आत्मा की शांति के लिए व स्वयं के पितृ दोष निवारण के लिए पितृ पक्ष में श्राद्ध कराना अत्यंत आवश्यक होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button