BREAKING NEWS : किसानों (FARMERS) का भारत बंद शुरू, अंबाला में दिल्ली-अमृतसर NH को किया बंद

नए केंद्रीय कृषि कानूनों (NEW AGRICULTURE LAWS) के विरोध में किसान संगठनों ने आज भारत बंद का आह्वान किया है, दिल्ली-एनसीआर, यूपी, बिहार, पंजाब हरियाणा, उत्तर भारत समेत देश के कई राज्यों में असर, पुलिस( POLICE )ने रास्तों में किया बदलाव

नई दिल्ली. किसानो का भारत बंद शुरू हो चुका है। नए केंद्रीय कृषि कानूनों (New agriculture laws) के विरोध में किसान संगठनों (Farmers Organizations) ने आज सुबह 6 बजे से शाम 4 बजे तक के बंद का ऐलान भारत बंद का आह्वान किया है. दिल्ली-एनसीआर, यूपी, बिहार, पंजाब हरियाणा, उत्तर भारत समेत देश के कई राज्यों में असर दिखने लगा है। किसानो का निशाना प्रमुख राष्ट्रीय राजमार्ग हैं इसलिए पुलिस ने सोमवार को ट्रैफिक जाम से बचने के लिए रास्तों में बदलाव किया है।  किसानों ने अंबाला में दिल्ली-अमृतसर राष्ट्रीय राजमार्ग को शंभू टोल प्लाजा के पास बंद कर दिया है. एक प्रदर्शनकारी किसान के मुताबिक सुबह 6 बजे बंद कर दिया. स्कूल या अस्पताल के लिए जाने दे रहे हैं.

पंजाब-हरियाणा में शंभू बॉर्डर 4 बजे तक सील
एक किसान का कहना है कि किसानों के विरोध में भारत बंद के आह्वान को देखते हुए हमने शाम चार बजे तक शंभू सीमा (पंजाब-हरियाणा सीमा) को बंद कर दिया है.

  दिल्ली में प्रदर्शनकारियों की एंट्री बैन
केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों के विरोध में किसान यूनियनों ने 27 सितंबर को भारत बंद की अपील की है. इसके मद्देनजर दिल्ली-एनसीआर, यूपी, बिहार, पंजाब हरियाणा, उत्तर भारत समेत देश के कई राज्यों में पुलिस ने सोमवार को यातायात व्यवस्था में बदलाव किया है. कई शहरों में यातायात पुलिस ने किसानों के भारत बंद के मद्देनजर ट्रैफिक को डायवर्ट कर दिया है. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि सोमवार को दिल्ली में कड़ी सुरक्षा रहेगी. शहर की सीमाओं पर चल रहे तीन विरोध प्रदर्शन स्थलों से किसी भी प्रदर्शनकारी को दिल्ली में घुसने की अनुमति नहीं दी जाएगी.

सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम :पुलिस उपायुक्त

पुलिस उपायुक्त (नई दिल्ली) दीपक यादव ने कहा, ‘भारत बंद के मद्देनजर एहतियात के तौर पर सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम किए गए हैं. सीमावर्ती इलाकों में जांच चौकियों को मजबूत किया गया है. इंडिया गेट और विजय चौक समेत सभी महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों में पर्याप्त तैनाती रहेगी. सीमावर्ती इलाकों के गांवों से दिल्ली को जोड़ने वाली सभी सड़कों की कड़ी जांच की जाएगी.’

40 से अधिक किसान यूनियनों Farmers Union  का आग्रह

किसानों के आंदोलन की अगुवाई कर रही 40 से अधिक किसान यूनियनों के गठबंधन संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने यह भारत बंद बुलाया है. एसकेएम ने सभी राजनीतिक दलों से लोकतंत्र और संघवाद के सिद्धांतों की रक्षा के लिए किसानों के साथ खड़े होने का आग्रह किया था.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button