इंडियावर्ल्डस्टोरीज इन फोकस

भारत (INDIA )के वैक्सीन एक्सपोर्ट (VACCINE EXPORT) करने के फैसले पर अमेरिका वाइस प्रेसिडेंट ने ख़ुशी जाहिर की, मोदी ने कहा, आपका उप राष्ट्रपति चुना जाना महत्वपूर्ण

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिकी उप राष्ट्रपति कमला हैरिस से मुलाकात की, वे इस पद पर पहुंचने वाली पहली भारतीय मूल की महिला हैं

वॉशिंगटन : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने अमेरिका दौरे पर वहां की उपराष्ट्रपति कमला हैरिस से गुरुवार को मुलाकात की। पहली बार किसी भारतीय मूल की अमेरिकी उप-राष्ट्रपति ने भारतीय प्रधानमंत्री से मुलाकात की। मीटिंग के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मेरा और मेरे डेलिगेशन का स्वागत करने के लिए धन्यवाद। कुछ महीने पहले आपसे बातचीत का मौका मिला था। ये वो समय था, जब भारत कोरोना की दूसरी लहर का सामना कर रहा था। आपने जो सहायता के लिए हाथ बढ़ाया, उसके लिए आपका शुक्रिया अदा करता हूं।
मोदी ने कहा, आपका उप राष्ट्रपति चुना जाना महत्वपूर्ण
मोदी ने आगे कहा कि आपका उप राष्ट्रपति के रूप में चुना जाना एक महत्वपूर्ण घटना है। यह दुनिया के लिए प्रेरणास्रोत है। आप और बाइडेन मिलकर दोनों देशों के रिश्ते मजबूत करें। हम आपका सम्मान करना चाहते हैं, मैं आपका भारत में स्वागत करना चाहता हूं। आपकी विजय यात्रा ऐतिहासिक है। पीएम ने कहा कि विश्व की सबसे बड़ी और सबसे पुरानी डेमोक्रेसी के रूप में भारत और अमेरिका नेचुरल पार्टनर हैं। हमारे मूल्यों में समानता है। हमारा तालमेल और सहयोग भी निरंतर बढ़ता जा रहा है।
कमला हैरिस ने कहा-दोनों देशों के मजबूत रिश्तों को नई ऊंचाई देने की जरूरत
अमेरिकी उपराष्ट्रपति ने मोदी का स्वागत किया और दोनों देशों के मजबूत रिश्तों को नई ऊंचाई देने की जरूरत बताई। हैरिस ने कहा- भारत के इस फैसले से बहुत खुश हूं कि वो फिर वैक्सीन एक्सपोर्ट करने जा रहा है। वहां अब रोजाना एक करोड़ से ज्यादा लोगों को वैक्सीनेट किया जा रहा है और यह तादाद तेजी से बढ़ रही है। भारत में जब कोविड खतरनाक हुआ तो अमेरिका इस मुश्किल वक्त में उसके साथ खड़ा हुआ।

हिंद और प्रशांत महासागर में फ्री ट्रेड और फ्री रूट को महत्व

सुरक्षा के मामलों का जिक्र करते हुए हैरिस ने कहा- हम दोनों ही देश हिंद और प्रशांत महासागर में फ्री ट्रेड और फ्री रूट को महत्व देते हैं और इस दिशा में काम कर रहे हैं। क्लाइमेट चेंज के मुद्दे को भी भारत सरकार गंभीरता से ले रही है। हमें भरोसा है कि दोनों देश मिलकर पीपुल टू पीपुल कॉन्टैक्ट बढ़ाएंगे और दुनिया पर इसका सही प्रभाव पड़ेगा।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button