मूर्ति विसर्जन (Immersion) का सिलसिला जारी, अब तक 7000 से अधिक मूर्तियां विसर्जित

नगर निगम आयुक्त ने प्रशासनिक व्यवस्था का किया अवलोकन

रायपुर । राजधानी के महादेवघाट में निर्मित अस्थाई विसर्जन (Immersion) कुंड सहित विभिन्न तालाबों में आज भी निरन्तरता से प्रथम पूज्य देव भगवान श्रीगणेश की मूर्तियों के पूजन पश्चात श्रद्धापूर्वक विसर्जन (Immersion) का सिलसिला दिन भर जारी रहा. 7000 से अधिक छोटी मूर्तियां एवं लगभग 500 बड़ी मूर्तियां आज संध्या तक महादेवघाट के अस्थाई विसर्जन (Immersion) कुंड में विसर्जित की जा चुकी हैँ एवं यह क्रम निरंतर अभी भी चल रहा है।

आज सुबह नगर निगम आयुक्त प्रभात मलिक ने महादेवघाट के अस्थाई विसर्जन कुंड की प्रशासनिक व्यवस्था का प्रत्यक्ष अवलोकन किया| उस दौरान विसर्जन स्थल पर ड्यूटी कर रहे जोन 6 के जोन कार्यपालन अभियन्ता एस. पी. त्रिपाठी एवं अन्य सम्बंधित जोन अधिकारियों की उपस्थिति में व्यवस्था की स्थल समीक्षा कर आवश्यक निर्देश व्यवस्था के सम्बन्ध में सम्बंधित अधिकारियों को दिये।

विभिन्न तालाबों में विसर्जन के अस्थाई कुंडों में श्रद्धालुओं ने उत्साह के साथ गणेश की छोटी मूर्तियों का घरों से उन्हें ससम्मान लाकर पूजन करके विसर्जन किया एवं श्रद्धालुजन राजधानी शहर में नदी एवं तालाबों को प्रदूषण से सुरक्षित रखने पर्यावरण संरक्षण की दृष्टि से प्रत्यक्ष सहभागिता दर्ज करवाते दिखे. नगर निगम के जोन 8 की स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा आज भी निरंतरता से सुबह महादेवघाट के अस्थाई विसर्जन कुंड में विशेष टीम भेजकर सेनेटाईजर स्प्रे करवाया गया। मूर्ति विसर्जन के दौरान जोन 8 की विशेष टीम ने निरंतर सफाई करवाई और फागिंग अभियान चलाया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button