ब्रह्मचारी कुटि के महंत ने आनंद गिरी Anand Giri पर लगाया एक और गंभीर आरोप

cm योगी आदित्यनाथ ने महंत नरेंद्र गिरी को दी श्रद्धांजलि

 उत्तर प्रदेश । आनंद गिरि (Anand Giri) के आरोपों का सिलसिला बढ़ता ही जा रहा है। महंत नरेंद्र गिरि की मौत मामले में गिरफ्तार किए गए आनंद गिरि पर एक और महंत ने गंभीर आरोप लगाए हैं. ब्रह्मचारी कुटि के एक महंत का आरोप है कि लॉकडाउन के वक्त आनंद गिरि ने उनकी कुटि पर कब्जा करने की कोशिश की थी.

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत पर सवाल खड़े हो रहे हैं. अपने सुसाइड नोट में नरेंद्र गिरि ने जिस आनंद गिरि पर सवाल खड़े किए थे, उसे उत्तर प्रदेश पुलिस (UP Police) ने गिरफ्तार कर लिया है. लेकिन अब एक और महंत ने इस आनंद गिरि पर गंभीर आरोप लगाए हैं.

उत्तर प्रदेश के नोएडा (Noida) में ब्रह्मचारी कुटि के स्वामी ओम भारती ने आनंद गिरि को लेकर खुलासा किया है. स्वामी ओम भारती ने आजतक को बताया कि आनंद गिरि (Anand Giri) एक हिस्ट्रीशीटर है, लॉकडाउन के दौरान उसने नोएडा की सेक्टर 82 में मौजूद ब्रह्मचारी कुटि पर कब्जा करने की कोशिश की थी.

स्वामी ओम भारती के मुताबिक, तब आनंद गिरि ने खुद को प्रथम महंत बताया था. उन्होंने इस मामले में एफआईआर कराने की कोशिश की थी, लेकिन किसी ने एफआईआर दर्ज नहीं की थी. इसके बाद स्वामी ओम भारती ने अखाड़ा परिषद के महंत नरेंद्र गिरि से संपर्क किया था और तब जाकर आनंद गिरि ने अपना दावा वापस लिया था.

योगी आदित्यनाथ ने महंत नरेंद्र गिरी को दी श्रद्धांजलि

इसी बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी को प्रयागराज में उनके बाघंबरी मठ स्थित आवास पर जाकर श्रद्धांजलि दी। योगी ने बताया कि अखाड़ा परिषद के सदस्यों की राय है कि नरेंद्र गिरी का पार्थिव शरीर अंतिम दर्शन के लिए आज बाघंबरी पीठ में ही रहेगा। 23 सितंबर को भू-समाधि का कार्यक्रम किया जाएगा। महंत नरेंद्र गिरी को श्रद्धासुमन अर्पित करने पूर्व सीएम व सपा मुखिया अखिलेश यादव भी पहुंचे। उन्होंने मामले की जांच हाईकोर्ट के सिटिंग जज की देखरेख में कराने की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button