MS Dhoni के मेंटोर बनने से गेंदबाज़ों को मिलेगी काफी मदद: Virender Sehwag

खेल। Ms dhoni भारतीय क्रिकेट टीम के लिए एक सफल कप्तान रहे है। उनके होने मात्र से ही क्रिकेटर्स का मनोबल बढ़ता है।  Ms dhoni के मेंटरशिप से गेंदबाज़ों को काफी फायदा मिला है। पिछले वर्ल्ड कप में भी धोनी ने गेंदबाज़ो का बहुत साथ दिया। अनुभवी क्रिकेटर्स का कहना है, धोनी स्टंप के पीछे से ही गेंदबाज़ो को प्रेरित करते है।

ऐसा कहना है टीम इंडिया के पूर्व विस्फोटक सलामी बल्लेबाज वीरेंदर सहवाग (Virender Sehwag) का। सहवाग को पता है कि एक कप्तान के रूप में धोनी की मुख्य ताकत सीमित ओवरों फॉर्मेट में अपने गेंदबाजों की मानसिकता को समझना है.

पीटीआई से बातचीत में सहवान ने कहा, ‘‘मैं बहुत खुश हूं कि एमएस (धोनी) ने टी20 विश्व कप के लिए टीम मेंटर बनने का प्रस्ताव स्वीकार कर लिया। मुझे पता है कि बहुत से लोग चाहते हैं कि एमएस फिर से भारतीय क्रिकेट की मुख्यधारा में वापसी करें और मेंटर के रूप में टीम में शामिल होना सबसे अच्छी बात है

इस पूर्व विस्फोटक सलामी बल्लेबाज ने कहा, ‘‘एक विकेटकीपर के रूप में एमएस फील्डिंग लगाने सजाने के मामले में असाधारण थे और यह कुछ ऐसा है जो इस विश्व कप में गेंदबाजी इकाई की मदद करेगा। गेंदबाज अपना दिमाग लगा सकते हैं और बल्लेबाज के खिलाफ योजना बनाने के लिए उपयोगी सुझाव प्राप्त कर सकते हैं।’’

सहवाग ने कहा कि जो युवा खिलाड़ी थोड़े अंतर्मुखी या शर्मीले है उनके लिए भारतीय टीम में धोनी से बेहतर ‘मेंटर’ नहीं हो सकता है, खासकर तब जब उन्हें मार्गदर्शन करने के लिए किसी की जरूरत होती है क्योंकि वे मैदान पर खुद को अभिव्यक्त करने की कोशिश करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button