चीनी की जगह कर सकते हैं मीठी तुलसी (stevia) का इस्तेमाल, फायदे जान रह जायेंगे हैरान

हर्ब यानी जड़ी-बूटी है स्टीविया

लाइफस्टाइल | स्टीविया (stevia) एक हर्ब यानी जड़ी-बूटी है. ये चीनी की तरह मीठी होती है. इसे मीठी तुलसी भी कहा जाता है. इसकी पत्तियां देखने में बिल्कुल तुलसी की पत्तियों की तरह लगती हैं. इसे आप आसानी से अपने घर पर उगा सकते हैं. ये जड़ी-बूटी डायबिटीज (Diabetes) रोगियों के लिए बेहद फायदेमंद है. इसमें कैलोरी न के बराबर होती है. आप चीनी की जगह स्टेविया (stevia) का इस्तेमाल कर सकते हैं. इसे अपनी चाय या कॉफी, नींबू पानी, स्मूदी में मिला सकते हैं या इसे अपने दही में भी शामिल कर सकते हैं.

चाय और कॉफी को मीठा बनाने के लिए लोग स्टीविया (stevia) के सूखे पत्तों का इस्तेमाल करते हैं. स्‍टीविया (stevia) की पत्तियों में एंटीऑक्‍सीडेंट होते हैं. इसमें आयरन, प्रोटीन, फाइबर, पोटैशियम, मैग्‍नीशियम, सोडियम, विटामिन ए, सी जैसे पोषक तत्व भरपूर मात्रा में होते हैं. ये सभी पोषक तत्‍व हमारी सेहत के लिए लाभदायक हैं. इसके कई अन्य स्वास्थ्य लाभ भी हैं.

स्टीविया 4 हैरान कर देने वाले फायदे

डायबिटीज के रोगी के लिए फायदेमंद

स्‍टेविया में कैलोरी अधिक मात्रा नहीं होती है. एक अध्ययन के अनुसार स्टीविया के सेवन से इंसुलिन की मात्रा पर भी किसी प्रकार का कोई प्रभाव नहीं पड़ता. इसलिए कई तरह के व्‍यंजनों में डायबिटीज के रोगी इस पौधे की पत्तियों का इस्तेमाल कर सकते हैं. स्‍टेविया शुगर लेवल को कंट्रोल करने में भी मदद कर सकता है.

कैंसर की रोकथाम के लिए स्टीविया

इस जड़ी बूटी में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होते हैं. ये इसे एक शक्तिशाली कैंसर-रोधी फूड बनाता है. स्टीविया में केम्पफेरोल नामक एंटीऑक्सीडेंट तत्व होते हैं. ये कैंसर के खतरे को कम करने मदद करते हैं. ये अग्नाशय के कैंसर की रोकथाम में विशेष रूप से उपयोगी है.

स्टीविया वजन को बनाए रखने में मदद कर सकता है

मीठा होने के बावजूद, स्टेविया में कैलोरी बहुत कम होती है. आप वजन बढ़ाने की चिंता किए बिना इसे अपने डेजर्ट और कुकीज में शामिल कर सकते हैं. ये मीठे की लालसा को संतुष्ट करने का काम करता है. बच्चों के आहार में आप इसे शामिल कर सकते हैं. अगर आप अपना वजन कम करना चाहते हैं, तो आप चीनी से स्टीविया की ओर रुख कर सकते हैं.

ब्लड प्रेशर के स्तर को कम कर सकता है

स्टीविया में ग्लाइकोसाइड होते हैं ये शरीर से अधिक सोडियम को हटाने में मदद करते हैं. ये ब्लड प्रेशर के स्तर को स्थिर रखने में मदद करता है. ये हृदय रोग जैसे दिल के दौरे और स्ट्रोक के जोखिम को कम करता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button