प्रदेश सरकार का फैसला ऊंट के मुंह में जीरा के समान : कौशिक

रायपुर। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल केवल मात्र दिखावे के लिए स्व. सहायता समूहों का कर्ज माफ करने की घोषणा की है,जबकि कांग्रेस के घोषणापत्र(manifesto) में ही प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने पर स्व. सहायता समूह का 12 सौ करोड़ कर्जा माफ करने की बात कही गयी थी।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में 1 लाख महिला स्व सहायता समूह कार्यरत है,उनमें से केवल करीब 6000 महिला स्व. सहायता समूह का कर्जा दिखावे के लिए माफ किया गया है। जो स्व. सहायता समूह समय पर ऋण का भुगतान कर रहें हैं उनका कर्ज माफ नहीं किया जा रहा है।

जो समूह के सदस्य कर्ज का भुगतान नियमित नहीं कर रहे हैं।उन्हें के लिये ही कर्ज माफी का एलान किया गया है। नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि प्रदेश सरकार के वादे के मुताबिक सभी एक लाख महिला स्व. सहायता समूहों को घोषणा(manifesto) के मुताबिक कर्ज माफी का लाभ मिलना चाहिए था।

यह तो आज के घोषणा के मुताबिक केवल 1 प्रतिशत की कर्ज माफी हुई है तथा 99 प्रतिशत समूहों को छला गया है। नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने मांग की है कि सभी महिला समूह का एक मुक्त कर्ज माफ किया जाना चाहिए जिसका वादा कांग्रेस सरकार ने अपने घोषणा पत्र(manifesto) में किया था।

अब सत्ता में आने के बाद कांग्रेस अपने वादे पूरा करने के बजाय सत्ता के आनंद में व्यस्त है और कांग्रेस में मुख्यमंत्री पद की दौड़ स्पर्धा चल रहा है। प्रदेश सरकार इन 32 माह में प्रदेश के लोगों को छलने के अलावा कुछ नहीं किया है।प्रदेश की सरकार को सभी महिला स्व. सहायता समूह के साथ सहानुभूति पूर्व व्यवहार करते हुए सभी का कर्जा माफ किया जाना चाहिये लेकिन तीजा में पर्व के नाम पर केवल दिखावे के नाम पर कर्जा माफी किया है। इस फैसले को लेकर महिला स्व. सहायता के सदस्यों में काफी रोष है।

इस समय पर प्रदेश की 10 लाख महिलाये स्व. सहायता समूह से जुड़ी है। जिनके हित में यह फैसला तत्काल लिया जाना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button